No icon

महासमुंद: कलेक्टर सिंह ने ग्राम चुरकी मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक का किया निरीक्षण, सुविधाओं पर असंतोष व्यक्त किया

कलेक्टर बोले मरीजों की सेहत की जाँच एवं उपचार हेतु अलग व्यवस्था करें

महासमुंद: राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजना मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक योजना के तहत महासमुंद जिले में हर हफ्ते लगने वाले हाट बाजार में स्वास्थ्य शिविर में जांच और इलाज की सुविधा मरीजों को त्वरित रूप से आधारभूत स्वास्थ्य सेवाएं मिल रही है। महासमुंद कलेक्टर डोमन सिंह शुक्रवार को बागबाहरा विकासखंड के ग्राम चुरकी साप्ताहिक हाट बाजार में लगाए गए मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक शिविर पहुँचे। उनके साथ मुख्य कार्यपालन अधिकारी राकेश छिकारा साथ थे एस.डी.एम.बागबाहरा राकेश गोलछा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एन.क.े मंडपे और डीपीएम रोहित सहित सीईओ जनपद, बीएमओ, बीपीएम वहाँ मौजूद थे।
 
कलेक्टर डोमन सिंह ने मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक का निरीक्षण किया। हाट-बाजार क्लिनिक की व्यवस्था पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक नाम, गरिमा के अनुरूप होनी चाहिए। ताकि उपचार या स्वास्थ्य परीक्षण कराने आने वाले मरीजों को अच्छा वातावरण मिलंे। स्वास्थ्य जाँच हेतु अलग व्यवस्था हो, मरीजों और उनके साथ आने वाले लोगों के लिए पेयजल की व्यवस्था होनी चाहिए। इसके अलावा मौसमी बीमारी की सभी जरूरी दवाईयाँ उपलब्ध होनी चाहिए। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को कहा कि आगे से छोटी-छोटी जरूरत की सभी सुविधाएँ मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक शिविर हों यह सुनिश्चहित किया जाए। कलेक्टर सिंह ने कहा कि वह अगली बार फिर किसी हाट बाजार क्लिनिक शिविर का निरीक्षण करेंगे। किसी प्रकार की स्वास्थ्य सुविधाओं में कमी होने पर कार्रवाई की जाएगी।
जाये तथा 5 वर्ष से कम बच्चों एवं 15 से 49 वर्ष की महिलाओं की खून जांच कर आयरन की गोलियां मुफ्त बांटे।
कलेक्टर सिंह ने निरीक्षण के दौरान कहा कि जिले के दूर-दराज क्षेत्रों में ग्रामीण रोजमर्रा की जरूरत के सामान खरीदने-बेचने इन साप्ताहिक हाट बाजारों में पहुंचते हैं। चूंकि दूरस्थ ग्रामीण पहुंच विहीन क्षेत्रों में अब भी चिकित्सा सुविधाओं की पर्याप्त पहुंच नहीं होने के कारण इसी को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना की शुरूआत की है। जिससे ग्रामीण यहाँ सामानों की खरीदी-बिक्री के साथ अपने परिजनों को साथ लाकर उनका इलाज भी करा सकें। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महात्मा गांधी जी के 150वें जन्म दिवस के अवसर 2 अक्टूबर 2019 को इस योजना का शुभारंभ किया था।
कलेक्टर सिंह ने स्वास्थ्य की जाँच कराने आए मरीजों से बात की। उनके स्वास्थ्य का हाल जाना। इस मौकंे पर चुरकी हाट बाजार की व्यवस्था देखी। छोटी हाट लगने के कारण पूछने पर ग्राम सचिव ने बताया की इस हाट में पास के सिर्फ दो गाँव के लोग ही आते है। कलेक्टर ने हाट चबूतरे एवं अन्य व्यवस्थाओं की जानकारी ली।
Comment As:

Comment (0)