No icon

उसना चावल खरीदी पर CM बघेल का बड़ा बयान: केंद्र के फैसले से 60 परसेंट उसना चावल मिलर्स और मजदूरों को होगा नुकसान, PM मोदी से करेंगे खरीदी की अपील

 

रायपुर - मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र सरकार के उसना चावल खरीदने से इनकार करने पर बयान दिया है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री से हम फिर से आग्रह करेंगे. उसना चावल आज तक लेते आए हैं, अचानक क्यों बंद कर दिया गया इतने सारे राइस मिल हैं, इतने वर्कर, राज्य सरकार उत्पादन करते रही है. बंद करने के कारण 60 परसेंट उसना चावल मिलर्स को नुकसान होगा.

सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि पहले से बता देते तो हम किसानों से कह देते कि उसना क्वालिटी का धान न उगाएं, अब किसानों से कहेंगे कि उसना क्वालिटी के धान ना उत्पादित करें. केवल अरवा उत्पादित करें, क्योंकि भारत सरकार अरवा चावल लेती है. मंत्री नहीं मिले तो प्रधानमंत्री से आग्रह करेंगे, उसना चावल खरीदने की अपील करगें.

सीएम बोले यहां 60 परसेंट राइस मिल उसना का है. उसना को बढ़ावा केंद्र सरकार देती रही है. अचानक इस प्रकार के फैसले से बहुत सारे राइस मिलर प्रभावित होंगे, मजदूर प्रभावित होंगे, मिलिंग करके देने की क्षमता प्रभावित होगी.

अब जिस तरह फैसला केंद्र सरकार ले रही है, उसे निश्चित रूप से राइस मिलर्स को नुकसान होगा और छत्तीसगढ़ को नुकसान होगा. साथ ही सीतारमण को चिट्ठी लिखने को लेकर कहा कि छत्तीसगढ़ को GST से बहुत नुकसान हुआ है. इसलिए केंद्र सरकार से छत्तीसगढ़ को भी प्रतिपूर्ति मिले.

वहीं सीएम बघेल ने कंगना रनौत के बयान पर कहा कि यह सीधा आजादी की लड़ाई लड़ने वाले महापुरुषों का अपमान है. इससे ज्यादा शर्मनाक बयान नहीं हो सकता, उसे देश से माफी मांगनी चाहिए.

Comment As:

Comment (0)