No icon

पत्नी ने बेटे और भाई के साथ मिलकर पति को उतारा मौत के घाट... पुलिस को पता न चले इसलिए आधी रात को फ़ेंक दिया तालाब में, तीनों आरोपी गिरफ़्तार

बालोद - नवागांव के चुहरी तालाब में मिली लाश की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। इस मामले में पुलिस ने मृतक की पत्नी सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पैतृक संपत्ति के विवाद के चलते पत्नी ने अपने बेटे और भाई के साथ मिलकर पति को मौत के घाट उतार दिया था। फिलहाल तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

जानकारी के मुताबिक थाना सूरेगांव के ग्राम अहिबरन चुहरी तालाब में 7 नवम्बर को एक शव मिला था। शव के शरीर पर गहरे चोट के निशान भी पाए गए थे। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव की शिनाख्त कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। मृतक की पहचान तुलाराम निवासी ग्राम मुढ़िया के रूप में की गई थी। इधर इस मामले को हत्या से जोड़कर एसपी सदानंद कुमार ने एडिशनल एसपी डीआर पोर्ते और साइबर सेल प्रभारी रोहित मालेकर को जांच के आदेश दिए। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि, मृतक का उसकी पत्नी के साथ लम्बे समय से संपत्ति विवाद चल रहा है।

इस जानकारी के बाद पुलिस ने संदेह के आधार पर मृतिक की पत्नी को हिरासत में लिया और उससे पूछताछ शुरू की गईं। पूछताछ में महिला में बताया कि, उसका पति उसे और उसके बेटे को संपत्ति में हिस्सा नहीं देना चाहता था। इसी बात को लेकर दोनों का आये दिन विवाद होता रहता था। इस बात से तंग आकर पत्नी ने अपने बेटे और भाई के साथ मिलकर पति की ह्त्या करने की योजना बना डाली। प्लानिंग के तहत ही छह नवम्बर को मृतक का बेटा अपने मामा के साथ मढ़िया ग्राम अपने पिता के घर पहुंचा। यहां मिलकर तीनों ने डंडे से मृतक के सिर पर हमला कर उसकी हत्या कर दी। घटना के बाद आरोपी पुत्र अपने मामा के साथ शव को बोलेरो में डालकर चुहरी तालाब में फेंक दिया । साथ ही मृतक के मोबाइल को भी जलाकर नष्ट कर दिया था। तीनों ने हत्या करने की बात कबूल कर ली है।

इस मामले में पुलिस ने मृतक की पत्नी मान बाई 46 वर्ष, पुत्र युवराज साहू और मामा गंगाधर साहू को गिरफ्तार कर लिया है। तीनों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई पुलिस कर रही है।

Comment As:

Comment (0)