No icon

चाणक्य नीति

•चाणक्य नीति के अनुसार कि परिस्थितियां कैसी भी हों हमेशा डटकर सामना करना चाहिए, लेकिन आचार्य चाणक्य के अनुसार जीवन में कुछ परिस्थितियां ऐसी होती हैं, जिनसे बचना ही बेहतर होता है। आइए जानते हैं उन परिस्थितियों के बारे में-

दंगे या मारपीट से रहें दूर

 

यदि किसी स्थान पर दंगा या उपद्रव हो जाता है, तो उस स्थान से तुरंत भाग जाना चाहिए। यदि हम दंगा क्षेत्र में खड़े रहेंगे तो उपद्रवियों की हिंसा का शिकार हो सकते हैं। साथ ही किसी भी कार्यवाही अंर्तगत फंस सकते हैं। ऐसे स्थान से तुरंत भाग निकलना चाहिए

 

दुष्ट व्यक्ति का साथ-

 

आचार्य चाणक्य के अनुसार हमेशा दुष्ट व्यक्ति से दूर रहना चाहिए। जिस स्थान पर दुष्ट व्यक्ति हो रहता हो, उसे तुरंत त्याग देना चाहिए। दुष्ट व्यक्ति अपने हित के लिए दूसरे का अहित करने में भी पीछे नहीं हटता है इसलिए ऐसे इंसान से दूर हो जाना ही बेहतर होता है।

Comment As:

Comment (0)