No icon

8 माह की गर्भवती बीवी को छत से फेंककर मार डाला, कारण जानकर खौल उठेगा खून

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के सहारनपुर से हत्या का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहाँ कुतुबशेर थानाक्षेत्र के 62 फुटा रोड पर स्थित एक मस्जिद में अपनी गर्भवती बीवी का क़त्ल करने वाले इमाम को अरेस्ट कर लिया गया है। कुतुबशेर थाना प्रभारी पीयूष दीक्षित ने बताया कि मस्जिद के इमाम उस्मान पिता हुसैन को पुलिस ने रविवार (22 मई, 2022) दोपहर को मस्जिद के पास से अरेस्ट किया था।

 

आरोपित ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया है। उस्मान ने पुलिस को बताया कि उसकी बीवी हिना आठ माह की प्रेग्नेंट थी। वह बेटा चाहता था। इसलिए उसने अपने ‘जादू-टोने’ से पता किया कि उसकी पत्नी के गर्भ में क्या है। जब उसे ‘पता चला’ कि उसके गर्भ में बेटी है, तो उसने हिना को कई बार गर्भपात करने को कहा, मगर वह नहीं मानी। इसके बाद उसने 12 मई को अपनी बीवी को मस्जिद की छत से धक्का देकर उसे मार डाला। सराहनपुर पुलिस ने रविवार को महिला का शव कब्र से निकलवा कर उसे पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

 

पुलिस ने बताया है कि मस्जिद से गिरने की वजह से हिना की मौके पर ही मौत हो गई थी। इसके बाद इमाम ने हिना की माँ खुर्शीदा को ‘जादू-टोने’ की प्रक्रिया का बहाना बताकर उसकी मौत होना बताया। जिसके बाद खुर्शीदा ने कहीं भी उसकी शिकायत नहीं की और शव को दफना दिया था। मगर, जब उसे इस बात का पता चला कि उस्मान ही उसकी बेटी का हत्यारा है, तब खुर्शीदा (हिना की अम्मी) ने उस्मान और उसके दो अन्य साथियों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कराया। पुलिस ने जब इस मामले में जाँच की तो उस्मान को दोषी पाया गया।

 

बता दें कि उस्मान मूल रूप से बंदरजूड़ मुजाहिदपुर सतीवाला जिला हरिद्वार उत्तराखंड का निवासी है। हिना से 10 वर्ष पूर्व उसका निकाह हुआ था। बाकी दो साथियों की तलाश की जा रही है। वहीं, कुतुबशेर थाना प्रभारी का कहना है कि अभी पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं आई है।

Comment As:

Comment (0)