No icon

RAIPUR: मेरी पत्नी और बच्चों को परेशान मत करना, ASI से परेशान पंचायत सचिव ने सुसाईड नोट में लिखी ये बात, फिर लगा ली फांसी लगाई

रायपुर: खरौरा में पंचायत सचिव ओंकार प्रसाद वर्मा (56) ने रविवार को फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। उनका शव गांव के घर में फंदे से लटका मिला है। मरने से पहले पंचायत सचिव ने अपने परिचितों को वॉट्सऐप पर 2 पेज का सुसाइड नोट भेजा है। इसमें पंचायत सचिव ने तिल्दा नेवरा थाने में पदस्थ ASI रमेश कुमार शर्मा से तंग आकर खुदकुशी करने की बात लिखी है। इसके बाद ASI को लाइन अटैच कर दिया गया है। मामला तिल्दा नेवरा थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, ग्राम पंचायत रजिया के पंचायत सचिव ने अपने घर देवरी में फांसी लगाकर खुदकुशी की है। सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची तो छत पर लगे लोहे के सरिए में रस्सी के सहारे शव लटक रहा था। पुलिस ने शव को उतरवा कर पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया।

परिचितों को भी वॉट्सऐप पर भेजा सुसाइड नोट
पंचायत सचिव ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि 5 दिनों से एएसआई शर्मा द्वारा परेशान किया जा रहा है। 12 साल से पंचायत सचिव हूं, लेकिन कभी गलत काम नहीं किया। अब मुझे जीने का कोई अधिकार नहीं है। इसलिए मैं आत्महत्या कर रहा हूं। मेरी धर्म पत्नी है। मेरे तीन छोटे-छोटे बच्चे हैं। किसी को प्रताड़ित मत करना।

पुलिस ने एक खुदकुशी मामले में बुलाया था पूछताछ के लिए
दरअसल, रजिया निवासी ओमप्रकाश‎ वर्मा ने 2 दिसंबर 2021 को आत्महत्या की थी। इस मामले की जांच तिल्दा पुलिस कर रही है। इसी संबंध में ओम प्रकाश वर्मा की पत्नी और पंचायत सचिव के‎ मोबाइल की डिटेल चेक की गई थी। इसे लेकर जांच कर रहे ASI रमेश शर्मा ने सचिव ओंकार वर्मा को 25‎ दिसंबर को पूछताछ के लिए बुलाया था। इसके बाद उन्हें जाने दिया गया, लेकिन अगले दिन ओंकार ने खुदकुशी कर ली।

सुसाइड नोट में महिला को प्रताड़ित करने का जिक्र
ओंकर वर्मा के सुसाइड नोट में ओम प्रकाश वर्मा की‎ पत्नी का भी जिक्र है। लिखा है कि वह उसे साली की तरह ही मानता‎ है। कुछ भी गलत रिश्ता नहीं है।‎ ASI रमेश शर्मा बार-बार‎ पूछताछ कर प्रताड़ित करते हैं।‎ ओम प्रकाश की पत्नी को भी प्रताड़ित किया जा रहा है। वहीं ग्रामीणों का भी कहना है कि वे ओंकार प्रसाद वर्मा को पिछले 20 सालों से जानते हैं। आज तक उनके ऊपर कोई आरोप नहीं लगा है। इसकी उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए।

पुलिस बोली- जिसे साली बताया उससे 400 से ज्यादा बार बात
ASI रमेश शर्मा ने आरोपों को निराधार बताया है। कहा कि सचिव को पुराने मामले की जांच के लिए बुलाया था। सचिव आया और तबियत खराब होने की बात कहकर चला गया। वह घबराया हुआ था। वहीं थाना प्रभारी मोहसिन खान ने कहा है ग्राम रजिया के जिस व्यक्ति ने आत्महत्या की थी, उसकी पत्नी से ओंकार की फोन पर 400 से भी ज्यादा बार बातचीत हुई है। इसी बात को लेकर ASI उनसे पूछताछ करने में लगे हुए थे। प्रताड़ना जैसी कोई बात नहीं है। फिर भी मामले की बारीकी से जांच की जा रही है।

Comment As:

Comment (0)