No icon

टाइम बम से पुल उड़ाने की थी साजिश !, साथ ही मिला मुख्यमंत्री के नाम धमकी भरा पत्र, मचा हड़कंप

 मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath) को धमकी भरा पत्र (threatening letter) रीवा में एक पुल के नीचे (under a bridge in rewa) चस्पा किया गया था। पुल को उड़ाने के लिए लगाए गए एक बम के साथ यह पत्र चस्पा किया गया था। पुलिस ने बम को निष्क्रिय कर पत्र की जांच शुरू कर दी है।

 

 

 

एक तरफ जहां देश के 73वें गणतंत्र दिवस (73rd Republic Day) को मनाया जा रहा था तो वहीं मध्य प्रदेश के रीवा जिले में असामाजिक तत्व आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने का षड़यंत्र कर रहे थे। रीवा जिले के मनगंवा ओवरब्रिज को उड़ाने के लिए बम जैसी कोई डिवाइस लगा दी गई थी। इस डिवाइस के साथ एक पत्र भी चस्पा था जिसमें उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम पर धमकी भरा लेटर भी मिला। हालांकि इस पत्र में यूपी के सीएम को कैसी धमकी दी गई थी, इसका पुलिस ने जिक्र नहीं किया है। उक्त पत्र में बम धमाका रोकने की बात कही गई है।

 

 

रीवा में हड़कंप मचा

 

रीवा जिले के नेशनल हाईवे 30 रीवा से बनारस इलाहाबाद को जोड़ने वाले मार्ग पर मनगवां के पास ओवर ब्रिज के नीचे बुधवार की सुबह टाइम बम मिलने हड़कंप मच गया जिले की पुलिस अलर्ट होकर आवागामन को रोका और मौके पर पहुंचे बम निरोधक दस्ते ने समय रहते बम को निष्क्रिय किया जिससे बड़ा हादसा होने से टल गया बम के साथ ही धमकी भरा पत्र चस्पा मिला है जिसमे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का जिक्र किया गया है फिलहाल पुलिस जांच में जुटी है।

 

 

 

बम मिलने पर आवागमन रोका

 

बम मिलने की सूचना के बाद पुलिस ने पुल से यातायात को रोक दिया। मौके पर बम निरोधक दस्ते को बुलाया गया जिसके बाद बम निरोधक दल ने बम को समय रहते निष्क्रिय किया। बड़ी अनहोनी को टाला। साथ ही पत्र को जप्त किया जिसमें यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को धमकी दी गई थी।

 

 

 

यूपी पुलिस के साथ विवेचना शुरू

 

एडीजी केपी वेकेंटेश्वर ने इस घटना को लेकर बयान दिया है कि एक डिब्बे जैसी चीज मिली थी जिसे डिफ्यूज कर दिया गया है। वह खाली डिब्बा था। यूपी सीएम को धमकी भरा पत्र मिला है जिसमें यूपी पुलिस के साथ चर्चा की जा रही है। यूपी पुलिस के साथ मिलकर जांच शुरू कर दी गई है।

 

 

Comment As:

Comment (0)